अगस्त 20, 2019

READ IN ENGLISH

राष्ट्रीय

  1. केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने प्रदूषित शहरों की सूची में 20 नए नाम जोड़े
  • आंध्र प्रदेश के अनंतपुर, चित्तूर, इलुरू, कडापा, ओंगोल, राजमुंदरी, श्रीकाकुलम, विझिंयाग्राम का नाम वायु प्रदूषित शहरों की सूची में जोड़ा गया है।
  • इसके अलावा उत्तराखंड का देहरादून, गुजरात का वड़ोदरा, महाराष्ट्र का ठाणे, ओडिशा का कलिंगा नगर, तमिलनाडु का त्रिचि, तेलंगाना का सांगारेड्डी, पश्चिम बंगाल का बैरकपोर, दुर्गापुर, हल्दिया, हावड़ा, रानीगंज का नाम भी वायु प्रदूषित शहरों की सूची में शामिल किया गया है।
  • एनजीटी ने कहा कि 102 वायु प्रदूषित शहरों की तर्ज पर इन 20 शहरों की भी कार्ययोजना तीन महीने के भीतर तैयार की जानी चाहिए।
  1. नई दिल्ली में अंतर्राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा सम्मेलन का आयोजन किया गया
  • नई दिल्ली में दो दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा सम्मेलन का आयोजन किया गया, इसका शीर्षक “अध्यापक शिक्षा की यात्रा : स्थानीय से वैश्विक” था।
  • इस सम्मेलन का उद्घाटन मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक द्वारा किया गया। इस दो दिवसीय सम्मेलन का आयोजन राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद् (NCTE) द्वारा किया गया।

मुख्य बिंदु

♦ इस सम्मेलन का उद्देश्य भारत की स्कूली शिक्षा व्यवस्था को वैश्विक स्तर के समान लाना है। इस सम्मेलन के द्वारा शिक्षाविद, विचारकों तथा प्रशासकों को विभिन्न मुद्दों पर चर्चा के लिए प्लेटफार्म प्रदान किया गया। इस सम्मेलन में देश-विदेश के 40 विशेषज्ञों ने हिस्सा लिया।

♦ 22 अगस्त, 2019 को केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय “निष्ठा” (National Initiative on School Teachers Head Holistic Advancement) मिशन को लांच करेगा, यह विश्व का सबसे बड़ा अध्यापक शिक्षा प्रशिक्षण कार्यक्रम है। इसमें 42 लाख से ज्यादा अध्यापकों को प्रशिक्षण प्रदान किया जायेगा।

राष्ट्रीय शिक्षक शिक्षा परिषद् (National Council for Teacher Education)

♦ यह केंद्र सरकार की एक वैधानिक संस्था है। इसकी स्थापना वर्ष 1995 में राष्ट्रीय शिक्षक शिक्षा परिषद् अधिनियम, 1993 द्वारा की गयी थी। इसका मुख्य कार्य भारतीय शिक्षा प्रणाली के मानक व प्रक्रियाओं इत्यादि का अवलोकन करना है।

♦ NCTE शिक्षक शिक्षा के विकास के लिए योजनायें निर्मित करता है। इसका मुख्यालय नई दिल्ली में स्थित हैं।

  1. राष्ट्रपति राम नाथ गोविंद ने राजभवन में बंकर संग्रहालय का उद्घाटन किया
  • राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने आज राजभवन मुंबई में एक भूमिगत बंकर संग्रहालय का उद्घाटन किया।
  • इस अवसर पर, राष्ट्रपति ने राज्यपाल के कार्यालय-सह-निवास के पुनर्निर्माण की आधारशिला भी रखी।

राष्ट्रपति के बारे में

♦ नियुक्तिकर्ता: इलेक्टोरल कॉलेज ऑफ इंडिया

♦ वेतन: ₹ 500,000 (US $ 7,200) (प्रति माह)

♦ कार्यकाल अवधि: पांच साल

♦ स्थिति: राज्य के प्रमुख

  1. राष्ट्रीय हरित अधिकरण द्वारा गठित पैनल करेगा यमुना पर अवैध रेत खनन की जांच
  • राष्ट्रीय हरित न्यायाधिकरण(NGT) ने यमुना नदी में अवैध रेत खनन के आरोपों की जांच के लिए एक समिति बनाई है। एनजीटी अध्यक्ष, न्यायमूर्ति आदर्श कुमार गोयल की अध्यक्षता वाली एक एनजीटी पीठ ने यह निर्णय लिया।
  • समिति को एक महीने के भीतर ग्रीन पैनल को एक रिपोर्ट सौंपनी होगी।

मुख्य बिन्दु

♦ दिल्ली जल बोर्ड के सीईओ अनिल कुमार सिंह द्वारा यमुना में अवैध रूप से रेत खनन करने का आरोप लगने के बाद एनजीटी ने इस मुद्दे की जांच के लिए समिति का गठन किया।

♦ एनजीटी की पीठ ने दिल्ली के जिला मजिस्ट्रेट, दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति (DPCC) और केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (CPCB) को निर्देश दिया।

♦ निर्देशानुसार वे इस मुद्दे पर गौर करें और कानून के अनुसार उचित कार्रवाई करें और आदेश जारी करने के एक महीने के भीतर न्यायाधिकरण को पूरी रिपोर्ट सौंपें।

♦ दिल्ली की प्रदूषण नियंत्रण समिति कार्य के समन्वय और अनुपालन के लिए नोडल एजेंसी होगी।

♦ एनजीटी के आदेश की प्रति डीपीसीसी, सीपीसीबी और जिला मजिस्ट्रेट को अनुपालन के लिए ई-मेल से भेजी जाएगी।

♦ मामले को 5 दिसंबर को एनजीटी पीठ द्वारा आगे की सुनवाई के लिए सूचीबद्ध किया गया था।

पृष्ठभूमि

♦ एनजीटी का आदेश एक बाध्यकारी डिक्री है क्योंकि गैर-अनुपालन नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल अधिनियम, 2010 के तहत अभियोजन सहित दंडात्मक कार्रवाई कर सकता है।

♦ ग्रीन पैनल दिल्ली जल बोर्ड के सीईओ अनिल कुमार सिंह द्वारा दायर याचिका पर सुनवाई कर रहा था। उन्होंने आरोप लगाया था कि ताजेवाला बैराज से 17 किमी नीचे मुख्य नदी के रास्ते में एक नाकाबंदी बनाई जा रही है, जो दो नदियों – सोम और यमुना के संगम के नीचे है। ।जल बोर्ड के सीईओ ने आरोप लगाया कि रुकावट दो नदियों के प्रवाह को बाधित करेगी और यह अवैध रेत खनन करने के लिए किया जा रहा है।

  1. धार्मिक निकाय विवाह को भंग नहीं कर सकते: मद्रास उच्च न्यायालय
  • मद्रास उच्च न्यायालय ने हाल ही में फैसला सुनाया कि धार्मिक संगठनों के पास विवाह को भंग करने या यहां तक ​​कि विवाह की अनुमति देने की कोई शक्ति नहीं है। अदालत ने कहा कि एक धार्मिक संगठन द्वारा इस तरह की शक्ति का उपयोग निंदनीय है और मामले को कुछ गंभीरता से निपटाया जाना चाहिए।
  • मद्रास उच्च न्यायालय ने भी पहली शादी के विघटन से पहले दूसरे विवाहों को प्रोत्साहित करने के लिए धार्मिक संगठनों की निंदा की। अदालत ने कहा कि एक महिला, चाहे वह किसी भी धर्म की हो, उसे बेसहारा तब कहा जाता है, जब वह अपने पति से दूर होती है।
  • अदालत का फैसला मुस्लिम CISF कॉन्स्टेबल द्वारा दायर याचिका के जवाब में आया, जिसने अपनी दूसरी शादी के बाद नौकरी से बर्खास्त करने के खिलाफ अपील दायर की थी।

राज्यीय

  1. गुजरात को देश का पहला रासायनिक इंजीनियरिंग और प्रौद्योगिकी मिलेगा
  • केंद्रीय रासायनिक और उर्वरक मंत्रालय ने घोषणा की है कि गुजरात में पहला केंद्रीय रासायनिक इंजीनियरिंग और प्रौद्योगिकी संस्थान (CICET) स्थापित किया जाएगा।
  • वापी, अंकलेश्वर और वातवा में रासायनिक उद्योगों की महत्वपूर्ण उपस्थिति को देखते हुए, सरकार रासायनिक उद्योग को लाभ पहुंचाने के लिए CIPET की तर्ज पर केंद्रीय रासायनिक अभियांत्रिकी और प्रौद्योगिकी संस्थान की स्थापना करने की योजना बना रही है।
  • राज्य को देश का पहला CICET वातवा या सूरत में मिलेगा।

अंतर्राष्ट्रीय

  1. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को भूटान में RuPay कार्ड लॉन्च किया।
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को भूटान में RuPay कार्ड लॉन्च किया।
  • भूटान के दो दिवसीय दौरे पर गए मोदी ने सिमकोझा ज़ोंग में खरीदारी कर RuPay कार्ड लॉन्च किया। भारत और भूटान के प्रधानमंत्री की उपस्थिति में भारत और भूटान के बीच कुल पांच समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर किए गए।
  • इस मौके पर पीएम मोदी ने कहा, ‘मुझे बहुत खुशी है कि आज हमने भूटान में RuPay कार्ड को लॉन्च किया है। इससे डिजिटल भुगतान, और व्यापार तथा पर्यटन में हमारे संबंध और बढेंगे।’
  • भारतीय विदेश मंत्रालय (MEA) के प्रवक्ता रवीश कुमार ने एक ट्वीट में कहा, शमद्रुंग नामग्याल द्वारा 1629 में निर्मित सिम्टोका डज़ोंग प्रशासनिक केंद्र के रूप में कार्य करता है और भूटान के सबसे पुराने मंदिरों में से एक है।

बैंकिंग और वित्त

  1. भारतीय रिजर्व बैंक ने सभी बैंकों को अपनी शाखाओं के जरिये गोल्ड मोनेटाइजेशन स्कीम (GMS) को बढ़ावा देने के निर्देश दिये।
  • भारतीय रिजर्व बैंक ने सभी बैंकों से कहा है कि अपनी शाखाओं के जरिये गोल्ड मोनेटाइजेशन स्कीम (GMS) को बढ़ावा देने और इसको प्रभावी बनाने के लिए इसका प्रचार-प्रसार करें. दो निजी बैंकों के अधिकारियों ने बताया कि आरबीआई इस स्कीम को कामयाब बनाना चाहता है.
  • भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने 16 अगस्त को सभी अनुसूचित वाणिज्यिक बैंकों (क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों को छोड़कर) को गोल्ड मोनेटाइजेशन स्कीम को बढ़ावा देने का निर्देश दिया. गोल्ड मोनेटाइजेशन स्कीम 22 अक्टूबर, 2015 को पेश की गई थी. इसने गोल्ड डिपॉजिट स्कीम 1999 की जगह ली थी.

खेल

  1. डेनिल मेदवेदेव और मेडिसन कीज ने जीता खिताब
  • रूस के डेनिल मेदवेदेव ने सिनसिनाटी मास्टर्स टेनिस टूर्नामेंट के पुरुष एकल वर्ग का खिताब अपने नाम कर लिया है, जबकि महिला एकल वर्ग में अमेरिका की मेडिसन कीज को खिताबी जीत मिली है।
  • मेदवेदेव ने फाइनल में बेल्जियम के डेविड गोफिन को 7-6(3), 6-4 से मात दे फाइनल की ट्रॉफी उठाई। यह उनका पहला एटीपी मास्टर्स 1000 खिताब है।
  • महिला एकल वर्ग के फाइनल में कीज ने रूस की स्वेतलाना कुजनेत्सोवा को 7-5, 7-6(5) से हराकर इस सीजन का अपना दूसरा खिताब जीता। वर्ष 2017 में यूएस ओपन के फाइनल में पहुंचने वाली कीज के करियर का यह पांचवां और इस सत्र का दूसरा खिताब है। उन्होंने अप्रैल में चार्ल्सटन ओपन का खिताब जीता था।
  1. हिमा दास और मोहम्मद अनस ने चेक गणराज्य में जीते स्वर्ण पदक
  • भारत के शीर्ष फर्राटा धावकों हिमा दास और मोहम्मद अनस ने चेक गणराज्य में जारी एथलेटिकी मिटिनेक रीटर-2019 टूर्नामेंट में क्रमश: पुरुष और महिला वर्ग के 300 मीटर इवेंट में स्वर्ण पदक जीते।
  • इस साल के अजुर्न अवॉर्ड के लिए चुने गए अनस ने पुरुषों के 300 मीटर रेस को 41 सेकेंड के समय के साथ पूरा कर स्वर्ण पदक अपने नाम किया।
  • मोहम्मद अनस के अलावा निर्मल टॉम ने इस स्पर्धा में कांस्य पदक जीता। टॉम ने 03 सेकेंड के समय के साथ तीसरे स्थान पर रहते हुए कांस्य पदक अपने नाम किया।

नियुक्ति और इस्तीफा

  1. पेटीएम के CFO मधुर देवड़ा कंपनी के अध्यक्ष नियुक्त
  • डिजिटल भुगतान की अग्रणी कम्पनी पेटीएम ने अपने मुख्य वित्तीय अधिकारी(CFO) मधुर देवड़ा को कंपनी के अध्यक्ष के रूप में पदोन्नत करने की घोषणा की।
  • मधुर अक्टूबर 2016 में डिजिटल भुगतान फर्म में शामिल हुए थे। इससे पहले, देवरा ने सिटीग्रुप के निवेश बैंकिंग व्यवसाय में न्यूयॉर्क, लंदन और मुंबई में प्रबंध निदेशक के रूप में कार्य किया है।

मुख्य बिन्दु :

♦ पेटीएम संस्थापक: विजय शेखर शर्मा।

♦ मूल संगठन: One97 Communications

पुरस्कार और सम्मान

  1. सीसीएमबी के मुख्य वैज्ञानिक के. थंगराज ने वर्ष 2019 के लिए जे.सी. बोस फेलोशिप जीता
  • सेल्युलर एंड मॉलिक्यूलर बायोलॉजी (CCMB), हैदराबाद, तेलंगाना के केंद्र में मुख्य वैज्ञानिक के. थंगराज ने इस वर्ष के जे. सी. बोस फैलोशिप को जीता।
  • यह पुरस्कार 17 अगस्त, 2019 को जनसंख्या और चिकित्सा जीनोमिक्स के क्षेत्र में उनके उत्कृष्ट योगदान के लिए दिया गया है।

तेलंगाना के बारे में –

♦ स्थापित: 02 जून 2014

♦ राजधानी: हैदराबाद

♦ मुख्यमंत्री: के. चंद्रशेखर राव

विज्ञान, अंतरिक्ष और प्रौद्योगिकी

  1. वैज्ञानिकों ने त्वचा में एक नए दर्द-संवेदना वाले अंग की खोज की
  • स्वीडिश शोधकर्ताओं ने एक ऐसा संवेदी अंग खोजा है जो त्वचा में कोई भी तकलीफ होने पर तुरंत दर्द का एहसास करवाता है।
  • शोधकर्ताओं ने जिस संवेदी अंग की खोज की है, वह असल में ग्लिया सेल्स और कई लेयर्स वाले प्रोट्यूशियंस से मिले सेल्स हैं जो त्वचा में एक ऑर्गन बनाते हैं।
  • यह अंग दर्द के प्रति संवेदनशील नर्व सेल्स के आस-पास होता है और अपनी कई लेयर्स के कारण त्वचा की ऊपरी परत में फैल जाता है जिस कारण दर्द महसूस होता है।
  • यह खोज दर्द को लेकर लंबे समय से बनी पहेली के बारे में नई चीजें पता करने में मददगार रहेगी। यह खोज नई दर्द निवारक दवाओं के विकास में अहम रहेगी।

पर्यावरण

  1. भारत दुनिया में सल्फर डाइऑक्साइड (SO2) का शीर्ष उत्सर्जक है: ग्रीनपीस
  • भारत, दुनिया में मानवजनित सल्फर डाइऑक्साइड का सबसे बड़ा उत्सर्जनकर्ता है, जो कोयला जलाने से उत्पन्न होता है और वायु प्रदूषण में इसकी हिस्सेदारी बहुत अधिक होती है।
  • पर्यावरण संरक्षण से जुड़े एनजीओ ग्रीनपीस द्वारा सोमवार को जारी किए गए नेशनल एयरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (नासा) के आंकड़ों के एक विश्लेषण के अनुसार, ओएमआई (ओजोन मॉनिटरिंग इंस्ट्रूमेंट) उपग्रह द्वारा पता लगाए गए दुनिया के सभी मानवजनित सल्फर डाइऑक्साइड (एसओ2) उत्सर्जन के हॉटस्पॉट की तुलना में भारत में 15 प्रतिशत अधिक है।
  • भारत में प्रमुख एसओ2 उत्सर्जन हॉटस्पॉट मध्य प्रदेश के सिंगरौली, तमिलनाडु के नेवेली और चेन्नई, ओडिशा के तालचेर और झारसुगुड़ा, छत्तीसगढ़ के कोरबा, गुजरात के कच्छ, तेलंगाना के रामागुंडम और महाराष्ट्र में चंद्रपुर और कोराडी हैं।
  • विश्लेषण के अनुसार, भारत में अधिकतर संयंत्रों में वायु प्रदूषण कम करने के लिए फ्लु-गैस डिसल्फराइजेशन तकनीक का अभाव है।
  1. अरुणाचल प्रदेश में RGU के शोधकर्ताओं ने 5 नई मछली प्रजातियों की खोज की
  • राजीव गांधी विश्वविद्यालय (आरजीयू) के जूलॉजी विभाग से मत्स्य और जलीय पारिस्थितिकी अनुसंधान दल ने अरुणाचल के विभिन्न जिलों से मछली की 5 प्रजातियों की खोज की है।

मछलियों की 5 नई खोजी गई प्रजातियां हैं:

♦ मिस्टस प्रबीनी (सिनकिन और निचली दिबांग घाटी जिले में दिबांग नदियों  में खोजा गया)

♦ एक्सोस्टोमा कोट्टेलटी (लोअर सुबनसिरी जिले में रंगा नदी में खोजा गया)

♦ क्रेटुचिलोग्लानिस तवांगेंसिस (तवांग जिले में तवांगचु नदी में खोजा गया)

♦ गर्रा रंगनेंसिस (रंगा नदी में खोजा गया)

♦ शाईशी सूत्र  (निचली दिबांग घाटी जिले में दिबांग और लोहित नदियों में खोजी गई)।

महत्वपूर्ण तथ्य :

♦ अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री: पेमा खांडू।

♦ अरुणाचल प्रदेश के राज्यपाल: बी. डी. मिश्रा।

शोक सन्देश

  1. बिहार के पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा का 82 साल की उम्र में निधन
  • बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा का निधन हो गया. पिछले कई दिनों से जगन्नाथ मिश्रा का दिल्ली के एक अस्पताल में इलाज चल रहा था. 8
  • 2 साल के जगन्नाथ मिश्रा तीन बार बिहार के मुख्यमंत्री रहे थे. 1975 में वह पहली बार बिहार के मुख्यमंत्री बने थे. दूसरी बार 1980 और आखिरी बार 1989 से 1990 तक बिहार के मुख्यमंत्री रहे. उन्हें 90 के दशक के दौरान केंद्रीय कैबिनेट में भी जगह मिली थी.
  • उनके निधन पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दुख जताया है

महत्वपूर्ण दिन

  1. विश्व फोटोग्राफी दिवस 19 अगस्त, 2019 को मनाया जाता है
  • विश्व फोटोग्राफी दिवस का महत्व फोटोग्राफी के क्षेत्र में लोगों के बीच जागरूकता पैदा करना, विचारों को एक-दूसरे के बीच साझा करना तथा सबको प्रोत्साहित करना है.
  • यह दिवस बहुत खुशी के साथ युवाओं के बीच मनाया जाता है.
  • विश्व फोटोग्राफी दिवस का महत्व फोटोग्राफी के क्षेत्र में लोगों के बीच जागरूकता पैदा करना, विचारों को एक-दूसरे के बीच साझा करना तथा सबको प्रोत्साहित करना है. फोटोग्राफी को आजीविका के रूप अपनाने वाले बहुत सारे लोगों की संख्या एकत्रित हो चुकी है.
  • ऑस्ट्रेलियाई फोटोग्राफर कोर्स्के आरा ने साल 2009 में विश्व फोटोग्राफी दिवस योजना की शुरुआत की. विश्व फोटोग्राफी दिवस पर 19 अगस्त 2010 को पहले वैश्विक ऑनलाइन गैलरी का आयोजन किया गया था. यह दिवस विश्वभर में फोटोग्राफरों के एकजुट करने के उद्देश्य से मनाया जाता है.

READ IN ENGLISH

August 22, 2019

0 responses on "अगस्त 20, 2019"

Leave a Message

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Designed and developed by Bitibe
X